toshi

apne vajood ki talash me.........
Related Posts with Thumbnails

रविवार, 14 फ़रवरी 2010

"क्यों खास है मेरे लिए वेलेनटाइन डे........."

सचमुच बहुत ख़ास है मेरे लिए वेलेंटाइन डे.............लेकिन मेरे लिए यह दिन क्यों खास है.................?
यही तो वो दिन है जब मेरे कैरियर को एक नई दिशा मिली थी........प्रिंट मीडिया से इलेक्ट्रानिक मीडिया कि ओर मेरा पहला कदम..............मेरी पहली रिकॉर्डिंग...........वेलेंटाइन डे के इस ख़ास मौके पर एक स्पेशल प्रोग्राम.....१४ फरवरी २००२....दूरदर्शन केंद्र रायपुर से शुरू यह रिकार्डिंग अशोका टावर ,दिशा आन लाइन, फ़ूड ज़ोन, और  कुछ ग्रीटिंग्स - गिफ्ट कार्नर होते हुए वापस दूरदर्शन केंद्र में ख़त्म हुई. पहली रिकॉर्डिंग और वो भी आउट डोर मुश्किल ज़रूर था...........लेकिन तोषी के लिए मुश्किले ज्यादा मुश्किल नहीं होती...और हमारी टीम ने जो सहयोग दिया उसके कारन ही बिना ऑडिशन दिए मुझे मिला पहला प्रोग्राम  मेरे कैरियर के लिए मील का पत्थर साबित हुआ और मुझे साप्ताहिकी, गीतमाला, विभिन्न त्योहारों के स्पेशल प्रोग्राम ,के साथ शिक्षा , कानून , स्वस्थ्य जैसे महत्वपूर्ण विषयो के परिचर्चा के संचालन का अवसर मिला . शादी के बाद थोडा ठहराव ज़रूर आया है लेकिन मुझे मालूम है ये ठहराव ज्यादा दिन कायम नहीं रहेगा और एक बार फिर मै अपनी उस मनपसंद  दुनिया में ज़रूर लौटूंगी...क्योंकि मीडिया से जुड़े लोग लाईट, कैमरा, एक्शन ......का नशा बखूबी जानते है कि ये खुमारी इतनी  आसानी से नहीं उतरती....... 
"तोषी"...(मुस्कान)

10 टिप्पणियाँ:

डॉ टी एस दराल 14 फ़रवरी 2010 को 12:53 pm  

अच्छा लगा ये जानकार की इस दिन का संयोग आपके जीवन में एक नया मोड़ लाया।
आशा करता हूँ की इस दिन की अहमियत कुछ और लोगों के लिए भी शुभ साबित होगी।
शुभकामनायें।

PrakashYadav 14 फ़रवरी 2010 को 1:05 pm  

jaankar achh alaga ki yeh khaas din aapke liye khaas kyon hai....
ek nai shuruwaat ke liye dher saari shubkamnayein.....

Sanjeet Tripathi 14 फ़रवरी 2010 को 1:42 pm  

खुशी हुई जानकर कि यह दिन आपके लिए ऐसे भी खास है।

यह बात आपने सही कही कि मीडिया का नशा एक अलग ही होता है, चाहे इलेक्ट्रानिक हो या प्रिंट्।
खुमार उतरता नहीं है।

शुभकामनाएं मोहतरमा

बी एस पाबला 14 फ़रवरी 2010 को 2:06 pm  

खुमार तो फिर आखिर खुमार है :-)

शुभकामनाएँ

बी एस पाबला

सूर्यकान्त गुप्ता 14 फ़रवरी 2010 को 3:20 pm  

बहुत बढ़िया तोषी
व्यक्तित्व की पहचान
उसमे छिपी प्रतिभा से होती है
अवश्य तुम्हे अवसर प्राप्त होते रहेंगे
ठहराव नहीं यह तो "आरंभ" ही है.

महेन्द्र मिश्र 14 फ़रवरी 2010 को 7:35 pm  

फिर तो आपको हैप्पी वैलेंटाईन ....

M VERMA 14 फ़रवरी 2010 को 8:33 pm  

इस खास दिन आपके खास अवसर के लिये आपको बधाई

PrakashYadav 15 फ़रवरी 2010 को 9:33 am  

Toshi ji !
Is blog mein aap apne proga ke dauran valentine day ke anubhav ko bhi jpd dein to aur bhi achha ragege...

  © Blogger templates The Professional Template by Ourblogtemplates.com 2008

Back to TOP